Mahamrityunjaya Jaap

महामृत्युंजय जाप क्या है ?

महामृत्युंजय मंत्र जपने से अकाल मृत्यु तो टलती ही है, आरोग्यता की भी प्राप्ति होती है। स्नान करते समय शरीर पर लोटे से पानी डालते वक्त इस मंत्र का जप करने से स्वास्थ्य-लाभ होता है। इस जाप को पंडित शिव गुरु जी श्री महाकालेश्वर मंदिर में जातक की श्रद्धानुसार जातक की मंगल कामना के लिए पंडित जी उस जाप को करते है जिससे इस जाप को करने पर जातक को बहुत लाभ मिलता है

mahamratyunjay

महामृत्युंजय जाप के प्रभाव क्या है ?

  • ज्योतिष के अनुसार यदि जन्म, मास, गोचर और दशा, अंतर्दशा, स्थूलदशा आदि में ग्रहपीड़ा होने का योग है।
  • किसी महारोग से कोई पीड़ित होने पर।
  • जमीन-जायदाद के बंटवारे की संभावना हो।
  • हैजा-प्लेग आदि महामारी से लोग मर रहे हों।
  • राज्य या संपदा के जाने का अंदेशा हो।
  • धन-हानि हो रही हो।
  • मेलापक में नाड़ीदोष, षडाष्टक आदि आता हो।
  • परिवार में विवाद और संघर्ष
  • व्यापार और बेरोजगारी में नुकसान
  • संपत्ति और धन की हानि

Quick Contact

हमारे द्वारा मूर्ति प्रतिष्ठा, यज्ञ, कालसर्प दोष, मंगलभात पूजा वास्तु शान्ति, नक्षत्र शान्ति, महामृत्युंजय जप, रुद्र अभिषेक दुर्गापाठ एवं तंत्र, मंत्र,यंत्र, जन्म पत्रिका, विवाह संस्कार समस्त कार्य वैदिक पद्धिति से सम्पन्न कराये जाते है |

Call Now!